बारिश मे रपट टूटी, अब केसे जाए स्कूल रपट का कार्य अधूरा छोडा ,लोग परेशान

सिरोही।रमेश सुथार: जिले के मनोरा वराडा के बीच क्रष्णानदी पर बनी रपट मूसलाधार बारिश मे टुट जाने से आवागमन के मार्ग बन्द हो गये  जिससे ग्रामीणों को खासी दिक्कतें हो रही।साथ ही अब विधालय खुल जाने के बाद भी  छात्र विधालय जाने से वंसित हो रहे।

गोरतलब रहे मनोरा वराडा नदी मे कुछ वर्षो पूर्व करीब ७५लाख रूपये खर्च कर सरकार ने रपट का निर्माण करवाया था उसके बाद यहा मनोरा ,भूतगाव ,सतापुरा गांवो का सम्पर्क ओर बढ गया मगर अब बारिश के कहर के आगे रपट टुट चुकी है।मार्ग बन्द हो गये एसे मे लोगो का एकदूसरे गांव का सम्पर्क नही बन रहा।मनोरा से आनेवाले छोटे बच्चो का वराडा स्कुल मे पढना बन्द हो गया। बडे लोग तो जान जोखिम डाल पानी मे से बाहर निकल नदी पार कर रहे।देलदर विधालय मे लगे मनोरा के अध्यापक लखमाराम सुथार नदी पार कर स्कुल आते है।

कस्बे के युवा लोगो का कहना है की समय रहते रपट का काम शुरू किया होता तो लोगो को परेशानी नही होती।pwd ठेकेदार ने एक दो ट्रक कंकरिट के जरुर डाले ताकि  लोग समझे काम चालू हुआ लेकिन कार्य अधूरा छोड देने के बाद अभी तक कोई नही आया।

गोवाराम  पुरोहित,सुरेश पुरोहित,गोविन्द,भीमाराम पुरोहित,समेत क ई भाजपा कार्यकर्ता ने कहा की हमारे ग्रामीण क्षैत्र की ओर सरकार होते हुए भी कोई ध्यान नही देती जावाल पुल टुटने पर जायजा लेने नेताओ की बाढ आ ग ई मगर यहा वराडा मनोरा रपट की कोई सुध नही ले रहा ।ग्रामीणो के साथ एसा सोतेला व्यवहार क्यो ।सरकार चाहे तो एक दो दिन मे रपट ठिक कर पेदल रास्ता शुरू कर सकती है

6 thoughts on “बारिश मे रपट टूटी, अब केसे जाए स्कूल रपट का कार्य अधूरा छोडा ,लोग परेशान

Leave a Reply

Your email address will not be published.