व्यपार मेले में कैदियों का हुनर को देख सब हैरान

नई दिल्ली, विवेक अरोड़ा : यदि आप प्रगति मैदान में चल रहे अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में घूमने की योजना बना रहे हैं तो एक बार उत्तर प्रदेश के पवेलियन में जरूर आएं। यहां गांव की महिलाओं और कैदियों द्वारा बनाई गई लकड़ी व बांस की मदद से बनी लाइटें आपको अपनी ओर जरूर आकर्षित करेंगी। आप सोच भी नहीं सकते कि इन लोगों ने इतनी महीन कारीगरी दिखाकर इन लकड़ी के टुकड़ों को वह रूप दिया है जिसे आप जरूर खरीदकर अपने घर में रखना चाहेंगे। 

टेबल लैंप से लेकर सजावट के लिए तैयार सभी लाइटिंग की चीजों को बांस और लकड़ी से बनाया गया है। इनकी कारीगरी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इनलोगों ने पेड़ के आकार का सजावटी लाइट तैयार किया है जो देखने में काफी मनमोहक है। इन सामानों को एलईडी लाइट बनाने वाली एक कंपनी वीएस इनर्जी तैयार करवाती है। इसमें खास बात यह है कि कंपनी इन लाइटों को ग्रामीण महिलाओं और गौतम बुध नगर स्थित जेल के कैदी बनवाती है। इसके लिए कंपनी सरकारी योजना के तहत इन्हें ट्रेनिंग देती है। ट्रेनिंग देने के बाद कारीगरों को डिजाइन बताया जाता है और इन्हें एलईडी बल्ब मुहैया करवाता जाता है। 

आईटीपीओ- ट्रेड फेयर 2019, दिल्ली के लिए आरजेएस पाॅजिटिव मीडिया-ग्रामीण आवाज की रिपोर्ट