राष्ट्रपति के काफिले की वजह से रुकेगा ढाई घंटे ट्रैफिक

वृंदावन: राष्ट्रपति के दौरे को लेकर सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए गए हैं। साफ-सफाई और प्रकाश व्यवस्थाएं भी की गई है। राष्ट्रपति का काफिला जहां होकर गुजरेगा, उस रास्ते को आम आदमी के लिए बंद कर दिया जाएगा। करीब ढाई घंटे तक यातायात प्रभावित रहेगा।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविद 28 नवंबर को वृंदावन आ रहे हैं। राष्ट्रपति के आगमन से पहले चाक चौबंद बंदोबस्त में जुटा जिला प्रशासन कोताही बरतने के मूड में नहीं हैं। सोमवार को खुद डीएम सर्वज्ञराम मिश्र तथा एसएसपी शलभ माथुर ने रामकृष्ण मिशन सेवाश्रम, निकुंज वन, बांकेबिहारी मंदिर तथा अक्षयपात्र फाउंडेशन परिसर में तैयार हो रहे हेलीपैड स्थलों का निरीक्षण कर आयोजकों के साथ तैयारियों को लेकर चर्चा भी की। इसके बाद अफसरों ने राष्ट्रपति के पूरे रूट का निरीक्षण कर तैयारियों का भी जायजा लिया तथा अधीनस्थों से काम में तेजी लाने के निर्देश भी दिए। -ये होगा राष्ट्रपति का रूट प्लान-

राष्ट्रपति का हेलीकॉप्टर 28 नवंबर की सुबह 9.50 बजे अक्षयपात्र परिसर में हेलीपैड पर लैंड करेगा। जहां प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उनकी अगवानी करेंगे। यहां से राष्ट्रपति का काफिला प्रेममंदिर, चैतन्य विहार, रेलवे ओवरब्रिज के रास्ते मथुरा मार्ग से 10 बजे रामकृष्ण मिशन पहुंचेगा। आरके मिशन में 45 मिनट बाद 10.45 बजे राष्ट्रपति का काफिला मथुरा मार्ग से रेलवे ओवरब्रिज चैतन्य विहार से रमणरेती पुलिस चौकी से परिक्रमा मार्ग होते हुए बांकेबिहारी मंदिर की वीआइपी पार्किग पहुंचेगा। यहां से राष्ट्रपति ठा. बांकेबिहारी मंदिर में दर्शन व पूजा करने के लिए पहुंचेंगे। ठा. बांकेबिहारी मंदिर से राष्ट्रपति का काफिला 11.15 बजे निकलेगा, जो चैतन्य विहार रेलवे ओवरब्रिज होते हुए जिला संयुक्त चिकित्सालय के सामने होकर परिक्रमा माग कट से 11.30 बजे पानीघाट स्थित निकुंजवन पहुंचेगा। यहां करीब आधा घंटे ठहरने के बाद राष्ट्रपति 12 बजे अक्षयपात्र फाउंडेशन के लिए परिक्रमा मार्ग से पानीगांव संपर्क मार्ग, जिला संयुक्त चिकित्सालय, रेलवे ओवरब्रिज चैतन्य विहार, प्रेम मंदिर होते हुए 12.10 बजे अक्षयपात्र फाउंडेशन पहुंचेंगे। अक्षयपात्र फाउंडेशन में केंद्रीयकृत रसोई का निरीक्षण व भोजन के बाद राष्ट्रपति हेलीकॉप्टर से आगरा के लिए रवाना हो जाएंगे। इस दौरान दोपहर 3 बजे तक छटीकरा मार्ग पर वाहनों का आवागमन प्रतिबंधित रहेगा। -सुबह से वृंदावन में भारी वाहन रहेंगे प्रतिबंधित-

राष्ट्रपति के दौरे के मद्देनजर 28 नवंबर को सुबह से ही वृंदावन में भारी वाहनों का प्रवेश पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा। जबकि जिन रास्तों से राष्ट्रपति का काफिला गुजरेगा, उन रास्तों पर वाहनों को प्रतिबंधित रखा जाएगा। पानीगांव से आने वाले वाहनों को भी सुबह राष्ट्रपति के रूट से गुजरने के दौरान प्रतिबंधित रखा जाएगा। -बांकेबिहारी मंदिर रहेगा खाली-

राष्ट्रपति रामनाथ कोविद रामकृष्ण मिशन सेवाश्रम के समारोह में शामिल होने के बाद बांकेबिहारी मंदिर दर्शन को जाएंगे। राष्ट्रपति के पहुंचने पर मंदिर को पूरी तरह खाली रखा जाएगा। मंदिर के आसपास के इलाके में इस दिन सुबह राष्ट्रपति के गुजरने तक दुकानों को भी बंद रखवाया जाएगा। चप्पे-चप्पे पर भारी पुलिस फोर्स भी तैनात होगी।