नाबालिग चला रहे हैं आटो, छात्राओं से करते हैं छीटाकशी

हमीरपुर….. बिंवार : अनियंत्रित ऑटो चालक ने बाइक पर जा रहे प्रधान के भतीजे व उसके साथी को ठोका दोंनो कोगंभीर हालत मे कानपुर रेफर किया गया है।
क्षेत्र के लोदीपुर निवादा गांव निवासी साकेत सिंह(23) पुत्र बालेन्द्र जो वर्तमान प्रधान का भतीजा हैं व उसका साथी सरमन सिंह पुत्र शिवकरण दोनो ही शनिवार तड़के अपनी बहिन की ससुराल सिजवाही से वापस अपने घर लौट रहे थे जैसे ही सिलौली गांव पहुँचे तो बिवाँर से मौदहा के तरफ जा रही ऑटो नंबर up91T2188 चालक की लापरवाही सेअनियंत्रित होकर दोनों बाइक सवार युवकों को जोरदार टक्कर मार दी जिससे दोनों बाइक सवारों को गंभीर चोट आ गई ।और बेहोश हो गए राहगीरों की मदद से दोनों घायलों को मौदहा के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया जिसमे सरमन के दाहिने पैर के घुटने की कटोरी व उँगली में व साकेत के भी पैर में ज्यादा गंभीर चोटें आईं हैं।दोनो की हालात नाजुक होने पर डॉक्टरों ने कानपुर रिफर कर दिया बाइक सवारों के सिर में हेलमिट होने से सर में कोई चोट नही आई नही तो कोई बड़ी घटना भी घट सकती थीं।
गौरतलब हो कि क्षेत्र बिवाँर में ऑटो चालको का आतंक,प्रसासन की हीलाहवाली से ऑटो चालकों के हौसले बुलंद।
नशेड़ी और नाबालिग चालको की वजह से होती है दुर्घटनाये लगता है जाम।
बिवाँर क्षेत्र की सबसे बड़ी और भीषण समस्या है क्षेत्र में फर्राटा मारते आटो बीते एक दसक से क़स्बा में स्थानीय प्रसासन की हीलाहवाली से ऑटो चालको का आतंक फैला हुआ है।जिससे क़स्बा की सड़को पर प्रतिदिन जाम लगने के साथ ही दुर्घटना होना आम बात हो गई है।क़स्बा सहित क्षेत्र के बुद्धजीवियों ने स्थानीय प्रसासनिक अधिकारियो से कई बार इन ऑटो चालको की गुंडागर्दी और आतंक की शिकायते की है।जिस पर स्थानीय प्रसासन द्वारा ऑटो चालको के आतंक पर लगाम लगाने के लिये समय समय पर कार्यवाही करने के साथ ही ऑटो चालको को सुझाव भी दिए गए लेकिन इन ऑटो चालको द्वारा प्रसासनिक अधिकारियो के आदेश और सुझाव को हवा हवाई समझ कर ताख पर रख दिया जाता रहा है।कस्बा बिवाँर से ही कई गांवो लोदीपुर निवादा,छानी, उमरी,मौदहा,बाँधुर, धौहल आदि में आने जाने के लिए मुख्य मार्ग हैं।इस कस्बे से आसपास के गांवों में आवागमन पर लगभग पांच सैकड़ा ऑटो गाडी प्रतिदिन फर्राटा मारते हुए दौड़ा करती है।इन ऑटो गाडियो में दर्जनों ऑटो गाड़िया चोरी सहित छत्तीसगण मध्य प्रदेश प्रान्त की है जिनके चालको के पास इन गाडियो के कोई भी कागजात नहीं होते है।और खुलेआम क़स्बा की सड़को पर फर्राटा मारते हुए चलती है।इन ऑटो गाडियो को चलाने वाले अधिकांश ऑटो चालक नाबालिग है जिनके पास नातो ड्राइविंग लाइसेंस है और नाही गाड़ी के पेपर इतना ही नही इनमें से अधिकांश आटो चालको के पैर ब्रेक तक पहुच ही नही पाते है।दर्जनों ऑटो चालक तो सुबह से ही नशा करके अपनी अपनी गाड़िया चलाना सुरुकर देते है।इन ऑटो चालको को स्थानीय प्रसासनिक अधिकारियो का जरा भी भय नहीं है और खुलेआम अपनी ऑटो गाड़िया क़स्बा के मुख्य चौराहो पर खड़ी करते है।जिससे प्रतिदिन जाम लगना आम बात हो गई है।इतना ही नहीं यह ऑटो चालक क़स्बा की सड़क पर तेजी से फर्राटा मारते हुए चलते है और सावरिया देखकर झट से अपनी गाड़ी का ब्रेक लगा देते है।चाहे पीछे से आ रहा कोई सवार इनकी ऑटो गाड़ी से टकरा कर घायल ही क्यों न हो जाये इन्हें कोई परवाह नहीं रहती है इतना ही नहीं इन ऑटो चालको की गाड़ी में जब कोई महिलाये और स्कूल की छात्राएं बैठती है तो ऑटो चालक गाड़ी में लगे टेप रिकार्डर से तेज धुनों के साथ अश्लील गाने बजाते हुए महिलाओ के साथ छीटाकसी करने में भी बाज नही आते है।यह ऑटो चालक आये दिन रास्ते चलती महिलाओ से भी छीटाकसी करने से बाज नहीं आते है मारे सर्म और लोकलाज के महिलाये किसी से कुछ बोलने में भी कतरा जाती है।इन ऑटो चालको को क़स्बा के चौराहो में लगी पुलिस की पिकेट ड्यूटी सहित गस्तीय ड्यूटी का जरा भी भय नहीं और खुलेआम खाकी वर्दी के सामने अपनी अपनी गाड़ियॉ में अश्लील गाने बजाते हुए फर्राटा भरते हुए निकल जाते है।ज्ञात हो की बीते वर्ष क़स्बा के एक ऑटो चालक ने चलती हुई गाड़ी में महिला के साथ छेड़छाड़ सुरुकर दी थी जिसके बाद पीड़ित महिला ने चलती हुई ऑटो गाड़ी से कूदकर अपनी आबरू बचाई थी।और घटना की तहरीर देकर थाना में आरोपी ऑटो चालक के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया था।क़स्बा सहित क्षेत्र के बुद्धजीवियों ने जनपद के तेजतर्रार पुलिस अधीक्षक से ऑटो चालको की गुंडागर्दी सहित आतंक पर लगाम लगाने की मांग की है।

One thought on “नाबालिग चला रहे हैं आटो, छात्राओं से करते हैं छीटाकशी

Leave a Reply

Your email address will not be published.