रायबरेली: न्यू स्टैन्डर्ड पब्लिक स्कूल सलेथू में आयोजित महिला सुरक्षा समिति द्वारा छात्राओं को भाभी जीवन के लिए सफलता एवं सुरक्षा के प्रति किया गया प्रेरित

शिवाकांत अवस्थी : महराजगंज क्षेत्र के सलेथू गांव स्थित न्यू स्टैंडर्ड पब्लिक स्कूल महराजगंज में गठित महिला सुरक्षा समिति द्वारा विद्यालय की छात्राओं को भावी जीवन की सफलता एवं सुरक्षा के लिए प्रेरित करने का सार्थक प्रयास किया गया, जिसमें छात्राओं ने बढ़ चढ़कर भाग लिया तथा अपने विचार भी व्यक्त किए छात्राओं को सुरक्षित अनुशासित एवं शिक्षित बनाने के अनेक उपाय बताएं।

आपको बता दें कि, विद्यालय की विंग कोऑर्डिनेटर रजनी श्रीवास्तव ने छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि, हमें सदैव अपने लक्ष्य की ओर रहना चाहिए तथा निडर होकर अपने विचार व्यक्त करने चाहिए व सदैव अनुशासित रहते हुए परिवार तथा समाज का नाम रोशन करना चाहिए। अनुशासन राष्ट्रीय जीवन के लिए बेहद जरूरी है। यदि स्कूल समाज परिवार सभी जगह सब लोग अनुशासन में रहेंगे और अपने कर्तव्य का पालन करेंगे, अपनी जिम्मेदारी समझेंगे तो, कहीं किसी प्रकार की गड़बड़ी या अशांति नहीं होगी। नियम तोड़ने से ही अनुशासनहीनता बढ़ती है तथा समाज में अव्यवस्था पैदा होती है। बड़े होकर अनुशासन सीखना कठिन है। अनुशासन का पाठ बचपन से परिवार में रहकर सीखा जाता है। विद्यालय आकर अनुशासन की भावना का विकास होता है। अच्छी शिक्षा विद्यार्थी को अनुशासन का पालन कराना सिखाती है। सच्चा अनुशासन ही मनुष्य को पशु से ऊपर उठाकर वास्तव में मानव बनाता है। ऐसे अनुशासन का पालन करना सच्चा अनुशासन नहीं है और ना ही अनुशासन पराधीनता है। यह सामाजिक तथा राष्ट्रीय आवश्यकता है।

इसी क्रम में अध्यापिका प्रज्ञा तिवारी के द्वारा बच्चों को हेल्पलाइन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की गई। अनुशासन पर बोलते हुए प्रज्ञा तिवारी ने बच्चों को बताया की, विद्यार्थी जीवन में ही बच्चों में शारीरिक एवं मानसिक गुणों का विकास होता है अतः उसका भविष्य सुखमय बनाने के लिए अनुशासन में रहना जरूरी है।किसी काम को व्यवस्था के साथ-साथ अनुशासित होकर करते हैं तो, उस कार्य को करने में कोई परेशानी नहीं होती है। इसके अलावा कार्य करते समय भय, शंका एवं गलती होने का डर नहीं होता है। इसलिए सफलता प्राप्त करने के लिए अनुशासन में रहना जरूरी है। तथा छात्रा अदिति अवस्थी ने बताया कि वर्तमान समय में हमारे आसपास का माहौल सुरक्षित नहीं है जिस कारण हमें हर समय सतर्क रहने की आवश्यकता है इस अवसर पर विद्यालय की छात्राओं के साथ-साथ अध्यापिका दीप्ति पांडे अंजलि अवस्थी एवं विद्यालय परिवार उपस्थित रहा।