एम टू प्रयास निःशुल्क शिक्षण अभियान में 17 बच्चो का नवोदय प्रवेश परीक्षा में चयन

गंगरार : एम टू प्रयास निःशुल्क शिक्षण क्लास में 17 बच्चो का नवोदय प्रवेश परीक्षा में चयन हुआ। मंगलवार को जैसे ही रिजल्ट की घोषणा हुई और गांव में चहू और खुशी की लहर दौड़ गई ।आतिश बाजी के साथ मिठाईया बाट कर अभिभावक व ग्रामीणों ने खुशी मनाई। शिक्षा के गांव गंगरार ने एक बार फिर नवोदय प्रवेश परीक्षा में अपना झंडा लहराया।विगत पांच वर्षों से एम टू प्रयास ने सफल प्रयास किये जिसके तहत अब तक 51बच्चो का चयन नवोदय प्रवेश परीक्षा में हुआ इस वर्ष प्रयास में 29 बच्चो ने प्रयास किया जिसमें 17 बच्चों का कक्षा 6 में चयन हुआ है।59%जो राजस्थान में सबसे अधिक है।

माँ बेटे के आखों से बहे आंसू

माँ बेटे के आँखों से बहे आंसू जब कमलेश गुर्जर व उसकी माँ को यह पता चला कि बच्चे का नवोदय में चयन हुआ है तो उन्हें इस बात पर विश्वास तक नही हुआ।यह लड़का एक समय टोल टैक्स पर अपने पिता के साथ भीख मांगता था।साथ ही गोवालिया ग्राम के सरकारी स्कूल में यह बच्चा पढ़ता था और अपनी मर्जी के हिसाब से विद्यायल पढ़ने जाता था। जब कवर स्टोरी के संवाददाता की नजर में यह लड़का आया तो एम टू प्रयास को अवगत कराया और इस बच्चे को नवोदय प्रवेश परीक्षा की तैयारी कराने का निर्णय लिया।समाज सेवी लोगो ने इस बच्चे को प्रतिदिन गोवालिया ग्राम से 6 किलोमीटर दूर गंगरार क्लास रूम पहुँचाया।

प्रति चयन बच्चे दस पेड़ का करेगे पौधारोपण

जी हा एम टू प्रयास द्वारा इस वर्ष एक नई पहल का शुभारंभ किया जा रहा है जिसके तहत नवोदय परीक्षा में चयन हुये प्रति बच्चो पर दस जामुन के पेड़ लगाये जायेंगे।यह पेड़ प्रयास द्वारा उपलब्ध कराये जायेगे।जिसकी जिम्मेदारी बच्चो व अभिभावकों की ही होगी।जिस तरह सात बाद पेड़ फल देगा उसी तरह यह बच्चे भी निशुल्क शिक्षा में अपना योगदान देगे।

प्रयास का एक और प्रयास

प्रयास ने इस वर्ष एक नया प्रयास शुरू किया है।गंगरार के निःशुल्क क्लास की तरह कोटा जिले के इटावा तहसील के बोरदा ग्राम में इस वर्ष से एक क्लास रूम शुरू किया गया है।जिसमे नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा,सैनिक स्कूल परीक्षा, कक्षा 8 व कक्षा 10 बार्ड की परीक्षा की निःशुक्ल तैयारी करवाई जायेगी। प्रयास के सदस्यों ने बताया कि शिक्षा रूपी यज्ञ में कही सरकारी कर्मचारी भी एक घण्टे का बच्चो शिक्षा दान बच्चो को दे रहे है। साथ ही बोरदा ग्राम में टुयशन पद्यति करीब करीब समाप्त हो गई है। इसी तरह झालावाड़ जिले के पांचना गांव में भी एक नया क्लास रूम शुरू किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *