रक्त दान जीवन का सबसे बड़ा पुण्य-अम्बाला एसडीएम सुभाष चन्द्र सिहाग

अम्बाला, 10 नवम्बर
रक्त दान जीवन का सबसे बड़ा पुण्य है जिसके माध्यम से चंद बूंदे दान करके किसी घायल अथवा मरीज को जीवन दान दिया जा सकता है। उन्होंने कहा कि विज्ञान की तमाम उन्नति के बावजूद अभी तक रक्त का विकल्प नही मिल पाया है और इसकी पूर्ति केवल मानव शरीर से ही संभव है। यह बात अम्बाला एसडीएम सुभाष चन्द्र सिहाग ने राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) अम्बाला शहर में रक्तदान शिविर के दौरान बतौर मुख्य अतिथि अपने सम्बोधन में कहे। इस मौके पर मुख्य अतिथि ने स्कूल मुखियों को 100 प्राथमिक सहायता बॉक्स (किट) भी वितरित की तथा शिविर में 130 स्वेच्छिक रक्तदाताओं ने रक्तदान किया। इस शिविर का आयोजन आईटीआई व भारत विकास परिषद के सहयोग से लगाया गया। मुख्य अतिथि ने रक्तदाताओं को बैज लगाकर प्रोत्साहित भी किया।
एसडीएम ने रक्तदाताओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि दान दिया गया रक्त बिना किसी अतिरिक्त खुराक के कुछ समय में ही स्वंय पूरा हो जाता है। उन्होंने जिला वासियों विशेषकर युवाओं का आहवान किया कि वे रक्तदान में जिला रैड क्रास सोसायटी का अधिक से अधिक सहयोग करें ताकि प्रत्येक घायल व मरीज को आवश्यकता अनुसार समय पर रक्त की आपूर्ति सुनिश्चित की जा सके। शिविर के दौरान राजकीय मैडिकल कालेज सैक्टर 32 चंडीगढ़ से डा0 नेहा, डा0 पनदीप व डा0 कनिका ने भी रक्तदान में सहयोग दिया।
इस अवसर पर प्रिंसीपल भूपेन्द्र सांगवान ने मुख्य अतिथि का स्वागत कर रक्तदान शिविर लगाए जाने की भी सराहना की। उन्होंने कहा कि रक्त का दान कर हम घटना में घायल व किसी मरीज की अनमोल जान को बचा सकते हैं। इस मौके पर जिला रैड क्रास सोसायटी सचिव श्रीमती विजया लक्ष्मी, बिजली निगम के एक्सईएन बी.एस. कम्बोज, सहायक निदेशक इंडस्ट्री श्रीमती विजया लक्ष्मी, बीईओ रविन्द्र कुमार, जिला रोजगार अधिकारी, भारत विकास परिषद से दीपक आनन्द, नरेन्द्र बतरा, आर.के. गुलाटी, आईटीआई से राजकुमार, ऋषिपाल, धर्मवीर कश्यप, परमजीत सैनी, अमर गोयल, रैड क्रास से हरमेश चन्द्र, मनोज सैनी सहित अन्य मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *