81 लाख आधार नंबर हुए डीएक्टिवेट, नकली होने की थी शंका

नई दिल्ली. सरकार द्वारा पैन और आधार कार्ड को हर जगह के लिए जरूरी कर दिया गया है. अभी हाल ही में सरकार द्वारा 81 लाख पैन कार्ड को बंद कर दिया गया है क्योंकि यह शंका जताई जा रही थी कि शायद ये कार्ड नकली है.

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) द्वारा 81 लाख आधार नंबर को डिएक्टिवेट कर दिया गया है. वित्तीय लेनदेन और सरकार की सामाजिक सुरक्षा योजनाओं में इसकी अनिवार्यता की वजह से हर किसी को इसे अपने पास रखना जरूरी हो गया है.

UIDAI हेल्पलाइन और आधार पंजीकरण सेंटर के अधिकारियों के मुताबिक यदि पिछले तीन लगातार सालों में आपके आधार का इस्तेमाल नहीं हुआ है, यानी, आपने इसे किसी बैंक खाते या पैन से लिंक नहीं किया है या ईपीएफओ को आधार डिटेल्स देने से लेकर पेंशन क्लेम करने जैसे दूसरे लेनदेन में इसका इस्तेमाल नहीं किया है, तो आपका आधार डीएक्टीवेट किया जा सकता है.

अगर आप भी अपना आधार कार्ड चैक करना चाहते है यह पता करने के लिए सबसे पहले UIDAI की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं. यहां दिए गए Verify Aadhaar Number विकल्प पर क्लिक करें . यहां से आपको पता चल जाएगा.

अगर आपका आधार सक्रिय नहीं है तो आपको संबंधित दस्तावेजों के साथ करीब के एनरॉलमेंट सेंटर जाना होगा. आपको वहां आधार अपडेट फॉर्म भरना होगा और आपके बायोमीट्रिक्स दोबारा वैरिफाई किए जाएंगे और उन्हें अपडेट कर दिया जाएगा. अपडेशन के लिए आपको एनरॉलमेंट सेंटर में 25 रुपए की फीस भी देनी होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *